आखिरी फिल्म के को-एक्टर ने कहा- अब वे लोग प्यार उड़ेल रहे, जिन्होंने कभी परवाह नहीं की

आखिरी फिल्म के को-एक्टर ने कहा- अब वे लोग प्यार उड़ेल रहे, जिन्होंने कभी परवाह नहीं की


सैफ अली खान ने उन लोगों और बॉलीवुड सेलिब्रिटीज पर नाराजगी जाहिर की है, जो सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उनके प्रति सहानुभूति जता रहे हैं और प्यार उड़ेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में चिंता के दिखावे का पाखंड करने से अच्छा है कि एक दिन का मौन रख लिया जाए।

'यह शर्मनाक है'

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में सैफ ने कहा, "कई लोग हैं, जो बहुत जल्दी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। मुझे ऐसा लगता है कि कहीं न कहीं ये लोग अपने गरीब साथी की त्रासदी का फायदा उठा रहे हैं। फिर चाहे वह दया का दिखावा हो, इंट्रेस्ट हो या फिर राजनीतिक दिखावा हो। सोशल मीडिया पर लोग लगातार इसे लेकर बकवास कर रहे हैं और मुझे लगता है कि यह शर्मनाक है।"

सैफ आगे कहते हैं, "सुशांत की त्रासदी के लिए एक दिन का मौन या आत्मनिरीक्षण उस प्यार से बड़ा सम्मान होगा, जो लोग उनके मरने के बाद उड़ेल रहे हैं। और प्यार भी वे लोग उड़ेल रहे हैं, जो जाहिर तौर उनकी परवाह नहीं करते थे। ऐसे लोग, जिन्हें किसी की चिंता नहीं है।"

पाखंड मरे हुए आदमी का अपमान

सैफ की मानें तो सुशांत के प्रति चिंता का ढोंग करना उनका अपमान है। वे कहते हैं, "मेरा मतलब है कि हम (बॉलीवुड) किसी की परवाह नहीं करते। यह काम की गलाकाट लाइन है। यह दिखावा करना कि आप परवाह करते है, बहुत बड़ा पाखंड है और मुझे लगता है कि यह मरे हुए आदमी का अपमान है। यह उस आत्मा का अपमान है, जो जा चुकी है।"

प्यार का दिखावा फैन्स की सहानुभूति के लिए

सैफ के मुताबिक, सुशांत के प्रति अचानक जागा बॉलीवुड का प्यार उन्हें हजम नहीं हो रहा है। वे यह स्वीकार करते हैं कि इंडस्ट्री में किसी को किसी की परवाह नहीं है और सब बस अपने फैन्स की सहानुभूति पाना चाहते हैं। सैफ ने यह भी कहा कि सोशल मीडिया पर लंबी-चौड़ी पोस्ट लिखने वाले लोगों से असल जिंदगी में उसी स्तर के प्यार और सहानुभूति की उम्मीद नहीं है।

सैफ कहते हैं, "हम ऐसे युग में रह रहे हैं, जहां लोग ट्विटर पर आपके लिए 10 लाइन लिखेंगे और सड़क पर आपको पीछे छोड़ देंगे। यहां तक कि आपको न छुएंगे और न ही हाथ मिलाएंगे। आपको आपके बर्थडे पर शुभकामनाएं आती हैं, लेकिन वे लोग असल में आपको फोन भी नहीं करते। उनसे कोई संपर्क नहीं है।"

शेखर, कंगना से पूरी तरह सहमत नहीं

पिछले दिनों फिल्ममेकर शेखर कपूर ने सुशांत की मौत पर लिखा था, "मैं महसूस कर सकता हूं कि तुम पर क्या गुजर रही होगी। मुझे उन लोगों की कहानी पता है, जिन्होंने तुम्हे इस कदर निराश किया कि तुम मेरे कंधे पर सिर रखकर रोया करते थे।" वहीं कंगना रनोट ने भी सोशल मीडिया पर आए एक वीडियो में नाराजगी भरे लहजे में कहा था कि आउटसाइडर होने की वजह से सुशांत को तवज्जो नहीं मिली। हालांकि, सैफ इससे पूरी तरह सहमत नहीं हैं।

वे कहते हैं, "लोग लगातार लोगों को विफल कर रहे हैं। हर कोई उनके बारे में बात कर रहा है। यहां तक कि यह कहने वाले भी कि आप विफल रहे या आप असफल नहीं हुए, कहीं न कहीं उनके नाम को एक्सप्लॉइट कर रहे हैं। मुझे लगता है कि इस समय स्टैंड लेने के लिए दुख जताने और यह कहने कि मैं बहुत दुखी हूं और शायद उसे कोई और रास्ता नहीं सूझा के अलावा कोई भी कमेंट करना कहीं न कहीं सिचुएशन को मैनुपुलेट कर देगा।"

'कैम्पबाजी करना वाकई बुरा'

जब सैफ से पूछा गया कि क्या बॉलीवुड में ऐसे कैम्प्स हैं, जिनकी वजह से सुशांत की जिंदगी प्रभावित हुई? तो वे बोले, "इस पर कमेंट करना अभी सही नहीं रहेगा। मेरा मतलब है कि आप कह सकते हैं, सुन सकते हैं। लेकिन जो हुआ, वह वाकई बहुत बुरा है। आप कह सकते हैं कि कि उन्हें यही रास्ता सूझा। लेकिन किसी कि भी दोष देना और कैम्पबाजी करना वाकई बहुत बुरा है।"

सैफ आगे कहते हैं, "मुझे लगता है कि यह लॉकडाउन और सोशल मीडिया की वजह से है। यह दुखद है कि फिल्मी दुनिया के लोग फिल्मों से आगे नहीं सोच पाते। हो सकता है कि वे अपनी जिंदगी की किसी और बात से नाराज हों। हो सकता है कोई व्यक्तिगत कारण हो? हो सकता है कि इससे फिल्मों का कोई लेना-देना न हो? अगर आप इससे बाहर नहीं देख सकते तो आप सबकुछ फिल्मों पर ही रख देंगे।"



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सैफ ने सुशांत के साथ उनकी आखिरी फिल्म 'दिल बेचारा' में काम किया है, जो लॉकडाउन के बाद रिलीज होगी।

😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments