अफवाहों और ब्लेम गेम भड़कीं रवीना टंडन, बोलीं- आप किसी को दोषी नहीं ठहरा सकते, फिल्म इंडस्ट्री को भी नहीं

अफवाहों और ब्लेम गेम भड़कीं रवीना टंडन, बोलीं- आप किसी को दोषी नहीं ठहरा सकते, फिल्म इंडस्ट्री को भी नहीं


सुशांत सिंह राजपूत की मौत को तीन सप्ताह बीत चुके हैं। पोस्टमार्टम और विसरा रिपोर्ट से यह स्पष्ट हो चुका है कि उन्होंने आत्महत्या की है। हालांकि, लोग अब भी यह मानने को तैयार नहीं हैं। सुशांत के फैन्स, दोस्त और फैमिली मेंबर्स का मानना है कि उनके खिलाफ साजिश की गई थी। अब एक्ट्रेस रवीना टंडन ने सोशल मीडिया पर जारी अफवाहों, ब्लेम गेम और विषाक्तता पर नाराजगी जाहिर की है।

इसे सनसनीखेज बनाना बंद कीजिए: रवीना

रवीना ने हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा, "अब इसे सनसनीखेज बनाना बंद कीजिए। आप किसी को दोषी नहीं ठहरा सकते। फिल्म इंडस्ट्री को भी नहीं। यह मारा-मारी, लिंच मॉब बन चुका है, जो कि गलत है। लोगों को तर्क संगत सोचना होगा। यह उस इंसान के लिए बहुत बड़ा काम होगा, जो दुनिया से जा चुका है।"

'लोग आपकी असफलता के लिए प्लानिंग करते हैं'

रवीना बॉलीवुड में कैम्पबाजी और मीन गर्ल गैंग की मौजूदगी से इनकार नहीं करतीं। वे कहती हैं, "मैं इस बात से सहमत हूं कि यहां राजनीति है और यह भी मानती हूं कि खराब लोग भी हैं। यह मैंने अपने ट्वीट में भी लिखा था। यहां ऐसे घटिया लोग हैं, जो आपकी असफलता के लिए प्लानिंग करते हैं। मैं इससे गुजरी हूं।"

वह ट्वीट, जो रवीना ने सुशांत के सुसाइड के बाद किया था और माना था कि फिल्म इंडस्ट्री ने नेपोटिज्म मौजूद है।

एक्ट्रेस ने आगे कहा, "ये वो लोग हैं, जो आपको गिराने के लिए फिल्मों से निकाल देते हैं। यह क्लासरूम पॉलिटिक्स की तरह है। वे घटिया खेल खेलते हैं। लेकिन इस तरह के लोग हर इंडस्ट्री में हैं। हम हाई प्रोफाइल ग्लैमरस जॉब कर रहे हैं और यहां गला काट प्रतिस्पर्धा है। इसलिए यह हाईलाइट हो जाता है।"

व्हाट्सऐप पर वायरल मैसेज पर रवीना का तर्क

रवीना व्हाट्सऐप पर वायरल उस पोस्ट को देखकर भी हैरान हैं, जिसमें दावा किया जा रहा है कि करन जौहर ने जानबूझकर सुशांत के लिए एक खराब फिल्म बनाई, ताकि उनका करियर बर्बाद हो जाए।

वे कहती हैं, "आखिर क्यों एक प्रोड्यूसर किसी एक्टर को करोड़ों रुपए देकर अपनी फिल्म में साइन करेगा और फिर एक बेकार फिल्म पर करोड़ों रुपए खर्च करने की रिस्क लेगा? क्यों कोई जानबूझकर अपनी फिल्म के साथ छेड़छाड़ करने के लिए इतना पैसा, समय और मैकेनिज्म लगाएगा?"

रवीना ने आपबीती भी सुनाई

रवीना ने इस दौरान यह खुलासा भी किया कि कैसे उन्हें रातोंरात एक फिल्म से निकाल दिया गया था। वे कहती हैं, "मैं फिल्म डिजाइनर के साथ शाम को होने वाली मुहूर्त पार्टी के लिए फिटिंग (ड्रेस) करा रही थी। शाम 4 बजे फोन आता है कि मुझे फिल्म से निकाला जा रहा है और मुझे साइनिंग अमाउंट लौटाना होगा। क्योंकि हीरो की गर्लफ्रेंड को मैं पसंद थी थी।"

कपूर परिवार भी हुआ राजनीति का शिकार

रवीना ने शशि कपूर के एक इंटरव्यू का हवाला दिया, जिन्होंने उन्हें उस सिचुएशन से निकलने में मदद की थी। वे कहती हैं, "इंटरव्यू में उन्होंने (शशि) कहा था कि पार्टी में आने के बाद मुझे अहसास हुआ कि हीरो कोई और है और उन्होंने मुझे इस बारे में इन्फॉर्म तक नहीं किया। तो भाई-भातीजबाद के इन झूठे दावों का क्या हुआ? जबकि महान राजकपूर का परिवार भी इस राजनीति से नहीं बच सका?"

रवीना ने यह भी बताया कि आखिर कैसे उन्हें शशि कपूर का इंटरव्यू इतने अच्छे से याद है? वे कहती हैं, "क्योंकि जब मेरे साथ यह सब हो रहा था, तब मैं इन लोगों से प्रेरणा ले रही थी। उन्होंने भी इस तरह की चीजों का सामना किया है। मैंने इसका इस्तेमाल खुद को सांत्वना देने के लिए किया।"

इंडस्ट्री से निकाले जाने का डर सबको होता है

रवीना शांत से तब दो बार मिली थीं, जब वे रियलिटी शो पर अपनी फिल्मों के प्रमोशन के लिए पहुंचे थे। उनकी मानें तो सुशांत की तरह फिल्म इंडस्ट्री से निकाले जाने का डर हर एक्टर की सच्चाई है। वे कहती हैं, "यहां तक कि टॉप मोस्ट स्टार्स या टॉप मोस्ट प्रोड्यूसर, डायरेक्टर्स के भाई या बेटे भी इस डर के साथ जीते हैं। अगर ऐसा नहीं होता तो सभी स्टार किड्स आज सुपरस्टार होते।"

इनसाइडर्स बनाम आउटसाइडर्स की बहस पर

सुशांत की मौत के बाद से इनसाइडर्स बनाम आउटसाइडर्स की बहस जारी है। इस पर रवीना ध्यान दिलाती हैं कि अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान और रणवीर सिंह ने बिना किसी गॉडफादर या इंडस्ट्री से कनेक्शन के पहचान बनाई। वे अपना उदाहरण भी देती हैं।

रवीना कहती हैं- मेरे पापा फिल्ममेकर थे। इसलिए मुझे इनसाइडर होना चाहिए? लेकिन उन्होंने कभी मुझे लॉन्च नहीं किया और न ही मेरी फिल्मों में पैसा लगाया। मुझे एक पिज्जा शॉप पर डिस्कवर किया गया था। इससे पहले मैं विज्ञापन कर रही थी और किसी ने मुझे रवि टंडन की बेटी होने की वजह से ऐड नहीं दिए थे।

मुझे कास्टिंग स्काउट ने बुलाया था। बाद में उन्हें पता चला कि मैं रवि टंडन की बेटी हूं। लेकिन आज भी मुझे सोशल मीडिया पर यह कहकर गाली दी जाती है कि तुम खुद भी नेपोटिज्म की रिजल्ट हो।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
रवीना टंडन ने अपने इस इंटरव्यू में यह माना है कि इंडस्ट्री में घटिया लोग हैं, जो आपकी असफलता के लिए प्लानिंग करते हैं।

😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments