परिवार के सदस्यों के लिए दुआएं भेजने वालों को अभिनेता ने धन्यवाद कहा, बोले- सोशल डिस्टेंसिंग सिर्फ शब्द नहीं इसे गंभीरता से लें

परिवार के सदस्यों के लिए दुआएं भेजने वालों को अभिनेता ने धन्यवाद कहा, बोले- सोशल डिस्टेंसिंग सिर्फ शब्द नहीं इसे गंभीरता से लें


दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने एक वीडियो जारी करते हुए उनकी मां और परिवार के तीन अन्य सदस्यों के लिए दुआएं करने वाले लोगों को दिल से शुक्रिया कहा है। इस वीडियो में उन्होंने बताया कि उनकी मां को अब आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही उन्होंने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग को गंभीरता के साथ लेते हुए उसका पालन करने के लिए भी कहा।

वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'दोस्तों! मेरी माँ दुलारी, भाई राजू, भाभी और भतीजी के लिए आपने प्यार और शुभकामनाएं भेजी हैं, उसके लिए मैं दिल से आपका आभारी हूँ।आपके प्यार भरे संदेशों ने मुझे बहुत शक्ति दी। पर मैं ये भी कहना चाहूंगा कि #SocialDistancing केवल शब्द नहीं है! इसकी वास्तविकता को समझें। इसे सीरियसली लें।'

दुआएं भेजने वालों को दिल से शुक्रिया कहा

वीडियो में अनुपम कहते हैं, 'थैंक यू, शुक्रिया, बहुत-बहुत धन्यवाद मेरे प्यारे दोस्तों आप लोगों के मैसेजेस के लिए, आशीर्वाद के लिए जो आपने भेजी मां के लिए, दुलारी के लिए, राजू और उसके परिवार वालों के लिए कि वो जल्दी ठीक हो जाएं और जल्दी वापस घर आ जाएं। सोशल मीडिया पर, पर्सनल मैसेजेस में मैं सबको जवाब तो नहीं दे सकता, लेकिन मैं दिल से आपका शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।'

'आपके मैसेजेस से सकारात्मकता मिली'

अनुपम ने कहा,'क्या है कि जब परिवार के चार सदस्य कोरोना वायरस के शिकार हों तो घबराहट तो होती है, मन के किसी कोने में मायूसी तो बढ़ती है। पर ऐसे में आप लोगों का प्यार मिला, आप लोगों की सांत्वना मिलीं तो उससे बहुत ढांढस भी बंधा और एक पॉजिटिविटी का भी अहसास हुआ।'

'मां को आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट किया गया'

आगे उन्होंने बताया, 'मम्मी जो हैं वो आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट कर दी गई हैं, राजू और उसका परिवार होम क्वारैंटाइन में हैं और मुझे भरोसा है वो अच्छे डॉक्टर्स की देखरेख में हैं और जल्दी ठीक हो जाएंगे। लेकिन आप लोगों ने मुझे बहुत प्यार दिया और उसके लिए मैं आपका दिल से शुक्रगुजार हूं।'

'सोशल डिस्टेंसिंग महज शब्द नहीं हैं'

आगे उन्होंनेकहा, 'एक बात और मैं कहना चाहता था कि ये जो सोशल डिस्टेंसिंग और ये स्टे सेफ जो शब्द हैं, ये महज एक्सप्रेशन्स नहीं हैं, ये एक वास्तविकता हैं, इनको सीरियसली लेना बहुत जरूरी हैं दोस्तों। अब क्या होउन्होंने कहा गया है, लोग सोचते हैं कि हम दूर से थोड़ा खड़े होकर बात कर रहे हैं, थोड़ा एक रिलेक्सेशन आ गया है, लोग थोड़ा सा इन बातों को भी एन्जॉय करने लगे हैं कि हम सोशल डिस्टेंसिंग में बात कर रहे हैं, हमने मास्क लगाया हुआ है।'

वायरस एक गंभीर समस्या है

'नहीं मुझे नहीं लगता कि ऐसे काम चलेगा, ये वायरस एक गंभीर समस्या है। अगर आप लोगों को जरूरत नहीं है बाहर जाने की, अगर आप लोगों के पास कोई और चारा नहीं है बाहर जाने के अलावा तो मत जाइए। ये जो रिलेक्सेशन हो रही है कि चार महीने हो गए हैं, अब सबकुछ ठीक हो जाएगा, नहीं होगा। आप लोगों को घर पर ही बैठना पड़ेगा तभी आप ठीक रहेंगे।'

उनसे पूछिए जिनके घर में ऐसी कोई बात हुई है। इसलिए इसे गंभीरता के साथ लें। एकबार फिर आप लोगों को धन्यवाद, आप लोगों के प्यार के लिए मैं दिल से आपका कृतज्ञ हूं।'

बिना जरूरी काम बाहर ना निकलें

साथ ही इंस्टाग्राम पर लिखे मैसेज में उन्होंने ये भी लिखा, 'सिर्फ इसलिए कि लॉकडाउन को चार महीने बीत चुके हैं, इसके साथ किसी तरह का प्रयोग ना करें। इसके लिए तब तक इंतजार करें, जब तक कि कोरोना वायरस के इलाज की कोई वैक्सीन नहीं आ जाती।'

मां समेत चार लोग कोरोना संक्रमित हुए

इससे पहले रविवार को एक वीडियो जारी करते हुए अनुपम ने बताया था कि उनकी मां दुलारी देवी, भाई राजू, भाभी रीमा और भतीजी वृंदा में कोरोना के हल्के लक्षण पाए गए हैं। जिसके बाद उनकी मां को कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वहीं भाई के परिवार ने खुद को घर में क्वारैंटाइन कर लिया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अनुपम खेर ने बताया कि उनकी मां दुलारी देवी को आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। (फोटो/वीडियो अनुपम खेर की सोशल मीडिया वॉल से साभार)

😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments