'मणिकर्णिका' के प्रोड्यूसर कमल जैन से सुशांत ने कहा था- आप मेरे साथ एक बड़ी फिल्म बनाइए, मुझे सबने बैन कर दिया है

'मणिकर्णिका' के प्रोड्यूसर कमल जैन से सुशांत ने कहा था- आप मेरे साथ एक बड़ी फिल्म बनाइए, मुझे सबने बैन कर दिया है


कंगना रनोट की मानें तो सुशांत सिंह राजपूत को बॉलीवुड में सभी ने बैन कर दिया था और उन्होंने प्रोड्यूसर कमल जैन से उनके साथ एक बड़ी फिल्म बनाने की गुहार लगाई थी। एक्ट्रेस ने एक इंटरव्यू में यह दावा खुद कमल से हुई बातचीत के हवाले से किया है। कंगना के मुताबिक, उनकी फिल्म 'मणिकर्णिका' के प्रोड्यूसर कमल जैन ने सुशांत के साथ 'एस.एस. धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी' में काम किया था।

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कंगना ने कहा, "सुशांत की मौत के बाद मैंने कमल जी से बात की थी। उन्होंने मुझे बताया था कि कुछ दिन पहले सुशांत ने उनसे बात की थी और उनके साथ एक बड़ी फिल्म बनाने की अपील की थी। कमलजी ने मुझे बताया था कि सुशांत कह रहे थे, 'कमलजी आपको मेरे साथ एक बड़ी फिल्म का ऐलान करना होगा। सभी ने मुझे बैन कर दिया है।' तब से मैं उनकी परिस्थिति को लेकर क्यूरियस थी।"

सुशांत की मौत के बाद पहला रिएक्शन क्या था?

जब कंगना से यह सवाल किया गया तो उन्होंने स्वीकार किया कि वे बाकी लोगों की तरह सुशांत को भी फॉलो नहीं करती थीं। लेकिन जब उनकी मौत के बारे में सुना तो वे हैरान रह गई थीं। वे कहती हैं, "मेरे लिए उस वक्त वे एक स्टार थे, जो बहुत ही होनहार और टैलेंटेड थे।"

कंगना के मुताबिक, वे सुशांत से कभी नहीं मिलीं। लेकिन किसी न किसी तरह दोनों हमेशा एक-दूसरे के क्लोज थे। कंगना ने उदाहरण देते हुए कहा, "जब वे नए थे तो हमारे एक कॉमन फ्रेंड थे संदीप सिंह। यहां तक कि वे अंकिता लोखंडे के साथ मेरे एक बर्थडे पर भी आए थे। मुझे याद है कि उस रात मैंने सिर्फ अंकिता से बात की थी, उनसे नहीं। बाद में मुझे पता चला कि वे 'राम लीला' (संजय लीला भंसाली की फिल्म) कर रह थे और फिर वे इससे बाहर हो गए थे। मुझे सारी अपडेट मिलती थी।"

कंगना की मानें तो वे यह नहीं कह सकतीं कि सुशांत ने आकर उन्हें सबकुछ बताया। बल्कि उन्होंने उन्हें लेकर अपना परसेप्शन बनाया। वे कहती हैं, "सुशांत फंस गए थे। जैसे कि अभिमन्यु को चक्रव्यूह में घेरा जाता है।"

अभिषेक कपूर ने कहा था- सुशांत शहीद हो गए हैं

कंगना बताती हैं कि, जब उन्होंने सुशांत की मौत के बाद उनके साथ काम कर चुके अभिषेक कपूर से बात की तो उन्होंने कहा था, 'वह शहीद हो गया।' कंगना ने इस दौरान अभिषेक के एक इंटरव्यू का हवाला भी दिया और कहा, "एक इंटरव्यू में अभिषेक ने कहा था कि जब उन्होंने 'केदारनाथ' में सुशांत के साथ काम किया तो वे 'काई पो छे' वाले सुशांत नहीं थे। वे बदल चुका थे। वे घुट गए थे। इससे पहले कि वे (इनसाइडर्स) उनका गला घोंटते, उन्होंने खुद अपना गला घोंट लिया।"

जब सुशांत को लेकर कंगना की सोच बदली

कंगना आगे कहती हैं, "ईमानदारी से कहूं तो जब मैंने सुशांत के बारे में एक के बाद एक ब्लाइंड आइटम पढ़े, जिनमें उन्हें रेपिस्ट, सेक्स एडिक्ट, ड्रग्स लेने वाला और अपने डायरेक्टर्स की पिटाई करने वाला बताया गया था, तब मैंने सोचा था कि इस लड़के को क्या हो रहा है। इसे अपनी जिंदगी को कंट्रोल करने की जरूरत है। यह मेरा परसेप्शन था। लेकिन जब मामले की गहराई में गई और सुशांत के बारे में जाना तो मैं अपने आप पर शर्मिंदा थी और अपराधबोध से भर गई थी।"

'मुझे किसी के कंधे पर रखकर बंदूक चलाने की जरूरत नहीं'

पिछले दिनों तापसी पन्नू और समीर सोनी समेत कई बॉलीवुड सेलेब्स ने कंगना अपर आरोप लगाया कि वे सुशांत की मौत का इस्तेमाल निजी बदले के लिए कर रही हैं। इसे लेकर एक्ट्रेस ने कहा, "जहां तक अपने दुश्मनों से बदला लेने की बात है तो मैं शुरुआत से ही इस बारे में खुलकर बोल रही हूं। इसके लिए मुझे किसी के कंधे पर रखकर बंदूक चलाने की जरूरत नहीं है।"

वे आगे कहती हैं, "किसी को यह कहने का अधिकार नहीं कि तुम्हे अपने दुश्मनों के बारे में बात करना बंद कर देना चाहिए, क्योंकि हम सुशांत के बारे में बात कर रहे हैं। जी हां, यह सुशांत के बारे में है। लेकिन यह मेरी जिंदगी के बारे में भी है। ये लोग अब भी मेरे खिलाफ गैंगबाजी कर रहे हैं। मैं अपने दुश्मनों के बारे में बात करूंगी। हम सुशांत को खो चुके हैं। लेकिन मुझे अपनी जिंदगी के लिए उम्मीद है। मैं इस बारे में बात करूंगी। आप मुझे नहीं कह सकते कि तुम बंद करो, क्योंकि तुम अभी तक जिंदा हो।"

बकौल कंगना, "जो लोग कह रहे हैं कि मैं अपने दुश्मनों से बदला ले रही हूं तो जाहिरतौर पर यह सही है। इसमें कोई संदेह नहीं है। मैं जीना चाहती हूं, सर्वाइव करना चाहती हूं, कुछ बड़ा करना चाहती हूं। मैं नहीं चाहती कि ये लोग मुझे अपने जाल में फंसाएं और मुझे बर्बाद कर दें। मैं उनसे लड़ने के लिए कुछ भी करूंगी।"

कुछ आउटसाइडर्स ही क्यों कंगना के खिलाफ बोल रहे?

जब कंगना से पूछा गया कि वे बॉलीवुड के दिग्गजों पर आरोप लगा रही हैं, लेकिन ऐसा क्यों है कि उनमें से कोई भी इस पर रिएक्शन नहीं दे रहा है। जबकि कुछ आउटसाइडर्स ही उनके खिलाफ बोल रहे हैं? जवाब में उन्होंने कहा, "वे अपने हाथ गंदे नहीं करने वाले। अगर वे कुछ बोलेंगे तो ट्रोल हो जाएंगे। इसलिए उन्होंने किसे भेजा? इन आउटसाइडर्स को। ताकि उन्हें पता चल सके कि किसकी जिंदगी उनके लिए मायने रखती है और किसकी नहीं?"

वे आगे कहती हैं, "अगर मैं कह हूं कि उन्हें (सुशांत को) कैसे मारा गया? तो आपको भी इस बारे में बात करनी चाहिए न। आप इस बारे में क्यों बोल रहे हो कि मैं 10 साल पहले क्या थी? यार दस साल पहले के इश्यू अलग थे। तब मुझे अंग्रेजी नहीं आती थी। मैं दुबली-पतली, घुंघराले बालों वाली बदसूरत-सी लड़की थी। लोग मेरा मजाक उड़ाते थे। लेकिन मैंने किसी को नहीं धमकाया। मेरे 10 साल पुराने वीडियो को भूल जाइए, फिलहाल सुशांत सिंह राजपूत की हत्या पर बात करिए।"

आदित्य चोपड़ा से पूछताछ को लेकर कंगना का दावा

कंगना की मानें तो सुशांत मामले में मुंबई पुलिस पहले कह रही थी कि आदित्य चोपड़ा और करन जौहर से पूछताछ की जरूरत नहीं। लेकिन जब उन्होंने उनके एक इंटरव्यू का प्रोमो देखा तो आदित्य चोपड़ा को पुलिस स्टेशन बुला लिया। वे कहती हैं, "मैंने रिपोर्ट्स में पढ़ा कि आदित्य चोपड़ा और संजय लीला भंसाली के बयानों में अंतर है। यानी कि हमारी ओर से केस मजबूत हो गया है।

भंसाली कह रहे हैं कि उन्होंने सुशांत को एक के बाद एक कुछ फिल्में ऑफर की थीं। लेकिन उन्हें उनकी फिल्में करने की इजाजत नहीं थी। जबकि आदित्य चोपड़ा कह रहे हैं कि भंसाली ने सुशांत को कोई फिल्म ऑफर नहीं की थी। अब झूठ कौन बोल रहा है? महेश भट्ट, जो कि सुशांत की जिंदगी में अजीबो-गरीब कारणों से दखलंदाजी कर रहे थे, उनसे भी पूछताछ होनी चाहिए।

करन जौहर को क्यों पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया?

मैं नहीं जानती कि आखिर क्यों मुंबई पुलिस करन जौहर को पूछताछ के लिए नहीं बुला रही है? हमारे सरकारी वकील ईशकरण सिंह भंडारी का कहना है कि उनके पास इस बात के पर्याप्त सबूत हैं कि फिल्म रिलीज करने का अधिकार हर प्रोड्यूसर के पास होता है। फिर भले ही कोई न्यूकमर के साथ फिल्म क्यों न बनाएं?

ऐसे में जब ये आर्टिकल छपते हैं कि सुशांत और उनके निगेटिव करियर ग्राफ के चलते उनकी फिल्म (ड्राइव) नहीं बिक रही है और अगर इसमें करन जौहर जौहर का हाथ नहीं है तो वे आधिकारिक बयान जारी क्यों नहीं करते? कोई भी एक्टर इसके लिए जिम्मेदार नहीं हो सकता। यहां स्क्रिप्ट राइटर, डायरेक्टर और प्रोड्यूसर होते हैं, जो कहानी चुनते हैं। एक्टर का इससे कोई लेना देना नहीं।

सीबीआई जांच के लिए सुब्रमण्यम स्वामी के संपर्क में कंगना

कंगना चाहती हैं कि सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले में सीबीआई जांच हो और इसे लेकर वे भाजपा से राज्यसभा सांसद और पूर्व कैबिनेट मंत्री सुब्रमण्यम स्वामी के संपर्क में हैं।वे कहती हैं, "जी हां, स्वामी और उनकी लीगल टीम के लोग मुझे कानूनी मदद कर रहे हैं। मैं अपनी बात आगे रखना चाहती हूं और यह सुनिशिचित करना चाहती हूं कि इन लोगों (जिन पर कंगना नेपोटिज्म को बढ़ावा देने के आरोप लगा रही हैं) की जांच हो और एक तरह की जागरूकता आए।" कंगना को मुंबई पुलिस ने समन भेजा है और सूत्रों की मानें तो वे अपना बयान मेल कर सकती हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कंगना रनोट के मुताबिक, उनकी फिल्म 'मणिकर्णिका' के प्रोड्यूसर कमल जैन सुशांत सिंह राजपूत के साथ 'एमएस धोनी : द अनटोल्ड स्टोरी' पर काम कर चुके थे।

😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments