बॉलीवुड पर चल रही बहस को Dia Mirza ने बताया पर्सनल एजेंडा, कहा- हां कैंप हैं लेकिन अभी जो हो रहा है वो निजी है

बॉलीवुड पर चल रही बहस को Dia Mirza ने बताया पर्सनल एजेंडा, कहा- हां कैंप हैं लेकिन अभी जो हो रहा है वो निजी है


नई दिल्ली | बॉलीवुड में इनसाइडर और आउटसाइडर की बहस (Insider and Outsider debate) पिछले कुछ वक्त से जोर-शोर से चल रही है। सुशांत के निधन के बाद से कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने इंडस्ट्री के कई बड़े लोगों पर सवाल उठाए हैं। अब हाल ही में एक्ट्रेस दीया मिर्जा (Dia Mirza) बॉलीवुड में मौजूद पक्षपात और भाई-भतीजावाद (Favouritism and Nepotism) को लेकर चर्चा की। उन्होंने इस वक्त चल रही बहस को अस्वस्थ (Dia Mirza says unhealthy debate) बताया। दीया का कहना है कि बॉलीवुड को लेकर चल रही बहस एक तरह से पर्सनल एजेंडा है।

दीया मिर्जा ने कहा कि पक्षपात है इंडस्ट्री (Dia says industry have favourtism) में वैसे ही जैसे लाइफ के हर पड़ाव में रहता है। इंडस्ट्री में कैंप भी हैं लेकिन ऐसा कहां नहीं होता है। दीया ने हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा कि मुझे अब ये बहस बहुत ही अस्वस्थ लगती है। हां पक्षपात है लेकिन ये एक सोशल इश्यू है, ये ऐसा है जो हर इंसान करता है और हर तरफ है। ऐसा स्कूल में भी होता है, टीचर्स के अपने फेवरेट स्टूडेंट्स (Dia says favouritism is everywhere in schools also) होते हैं। पक्षपात कोई नया नहीं है, ये इंसान में हमेशा से ही रहा है। मूवी माफिया के बारे में बात करते हुए दीया (Dia Mirza on Movie Mafia) ने बताया कि मुझे लगता है कि एक पीआर के कारण है। कई लोग जिनके पास अच्छा बैकअप है, पैसा है उनका पीआर संभालने के लिए बहुत सारे लोग हैं। ये पक्षपात मीडिया में भी है। दिक्कत ये है कि जब तक कोई बड़ा स्टार किसी मुद्दे के बारे में नहीं बोलता तो माना जाता है कि इंडस्ट्री चुप है। मीडिया भी हमेशा यही कहती है कि इंडस्ट्री नहीं बोल रही है। लेकिन इंडस्ट्री ने बोला (Dia says Industry had spoke about nepotism) है, बहुत सारे लोगों ने अपना मुद्दा रखा है लेकिन उनकी इतनी बड़ी ऑडियंस नहीं है, उनको मीडिया कवर नहीं करती है। मुझे लगता है दिक्कत पूरे सिस्टम में है जिसमें मीडिया भी शामिल है।

दीया ने आगे कहा कि हां कैंप हैं बिल्कुल हैं। ये उन लोगों का कैंप है जो एक दूसरे से मिलते हैं, काम करते हैं। अपने एक्सपीरियंस के बारे में दीया ने बात करते हुए बताया (Dia experience on her career) कि हां तब तकलीफ होती है जब दूसरे एक्टर्स के कारण मैंने फिल्में खो दी थीं लेकिन आप इससे निकलते हो और आगे बढ़ जाते हो। अभी मुझे बहुत सारी चीजों में पर्सनल एजेंडा दिखाई देता (Dia says personal agenda present debate) है। अभी जितना निशाना साधा जा रहा है वो पूरी तरह से निजी है और तकलीफदायक है।



😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments