इस गैंगस्टर ने डीजीपी सहित 8 पुलिसकर्मियों की थी हत्या, अब हंसल मेहता बनाएंगे बेब सीरीज

इस गैंगस्टर ने डीजीपी सहित 8 पुलिसकर्मियों की थी हत्या, अब हंसल मेहता बनाएंगे बेब सीरीज


बॉलीवुड के महशूर डायरेक्टर हंसल मेहता (Bollywood's famous director Hansal Mehta) यूपी के कानपुर वाले गैंगस्टर विकास दुबे पर वेब सीरीज (web series on Kanpur-based gangster Vikas Dubey) बनाने जा रहे हैं। पोलरॉइड मीडिया के सहयोग से निर्माता शैलेश आर सिंह (Producer Shailesh R Singh) की कर्मा मीडिया एंड एंटरटेनमेंट ने इसके लिए राइट्स खरीदे हैं। इस वेब सीरीज का निर्देशन करने जा रहे है मेहता ने कहा कि यह हमारे दौर के समय की सच्चाई कहती है जहां पॉलिटिक्स, क्राइम और कानून बनाने वालों के बीच साठगांठ देखने को मिलता है। मुझे इसमें एक बेहतरीन पॉलिटिकल थ्रिलर (great political thriller) दिख रही है। इस कहानी को कहना काफी दिलचस्प होगा। अभी मैं इस विषय के बारे में ज्यादा कुछ नहीं कह सकता हूं लेकिन इतना जरूर है कि इस सब्जेक्ट पर संवेदनशीलता और जिम्मेदारी के साथ काम किया जाएगा। बता दें कि हंसल इससे पहले 'अलीगढ़', 'ओमेर्टा' और 'शाहिद' ('Aligarh', 'Omerta' and 'Shahid') जैसी फिल्मों का निर्देशन कर चुके हैं। इन फिल्मों की क्रिटिक्स काफी तारीफ कर चुके हैं। इसके अलावा वह फिल्म 'शाहिद' के लिए नेशनल अवॉर्ड (National Award for the film 'Shahid') भी जीत चुके हैं।

Filmmaker Hansal Mehta

कहानी को लेकर उत्साहित है शैलेश आर सिंह
शैलेश का कहना है कि वह विकास दुबे की कहानी को स्क्रीन पर दिखाने के ‍लिए उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि मैं पूरी कहानी को न्यूज एजेंसियों और अन्य माध्यमों से काफी बारीकी से फॉलो कर रहा हूं। 8 पुलिसकर्मियों की हत्या ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। विकास दुबे के 7 दिन के सफर की शुरुआत हुई, जिसमें आखिरकार वह एक मुठभेड़ में मारा गया। मैंने सोचा कि क्यों ना इस कहानी को पूरे देश को सुनाया जाए और कुछ वास्तविक तथ्यों को सामने लाया जाए। मैं इस कहानी को बताने के लिए वास्तव में उत्सुक हूं। आपको बता दें कि इससे पहले शैलेश 'तनु वेड्स मनु', 'शाहिद', 'अलीगढ़', 'ओमर्टा' और 'जजमेंटल है क्या' जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके है।

Filmmaker Hansal Mehta

गैंगस्टार विकास दुबे पर था 5 लाख रुपए का ईनाम
आपको बता दें कि पिछले दिनों ईनामी गैंगस्टर विकास दुबे का यूपी पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया था। यह एनकाउंटर काफी विवादास्पद रहा। गैंगस्टार विकास ने उज्जैन में सरेंडर कर दिया था और पुलिस की गाड़ी में वापस लौटते वक्त विकास दुबे को जुलाई 10 को यूपी पुलिस द्वारा एनकाउंटर में मार गिराया गया था। पुलिस के मुताबिक, गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया था और विकास दुबे ने भागने की कोशिश की थी। इसके चलते उसका एनकाउंटर कर दिया गया था जिसके बाद पुलिस की काफी आलोचना भी हुई थी। डीएसपी समेत आठ पुलिसवालों की हत्या करने वाले विकास दुबे पर पांच लाख का ईनाम रखा गया था।



😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments