थेरेपिस्ट को निशाना बनाए जाने पर उसके बचाव में उतरीं स्वरा भास्कर, बोलीं- हमें साजिश की कहानियों की बजाए मेंटल हेल्थ के बारे में बातें करना चाहिए

थेरेपिस्ट को निशाना बनाए जाने पर उसके बचाव में उतरीं स्वरा भास्कर, बोलीं- हमें साजिश की कहानियों की बजाए मेंटल हेल्थ के बारे में बातें करना चाहिए


सुशांत सिंह राजपूत की थेरेपिस्ट ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में उन्हें बाइपोलर डिसऑर्डर से पीड़ित बताते हुए रिया चक्रवर्ती का बचाव किया था। जिसके बाद दिवंगत अभिनेता के जीजा ने थेरेपिस्ट के इस बयान को बेहद गैर-जिम्मेदाराना, अनैतिक और अवैध बताया था। अब एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने कई ट्विट्स करते हुए उस थेरेपिस्ट का समर्थन करते हुए उसका बचाव किया है।

स्वरा ने अपने ट्वीट के जरिए बताया कि सारे नियम कायदे तो तभी टूट गए थे, जब सुशांत की डेडबॉडी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थीं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कुछ लोग व्यक्तिगत प्रतिशोध और राजनीतिक लाभ के लिए भी अभिनेता की मौत का उपयोग कर रहे हैं।

तमाशे ने चुप्पी तोड़ने पर मजबूर किया

अपने पहले ट्वीट में स्वरा ने लिखा, 'इससे पहले कि हम इस थेरेपिस्ट पर 'प्रोफेशनल एथिकल कोड तोड़ने' आदि को लेकर हमला करें, सुशांत सिंह राजपूत के दुखद निधन, गलत चित्रण और अवसाद को लेकर कलंक लगाने जैसे हो रहे घृणित तमाशे ने इस महिला को उसकी चुप्पी तोड़ने के लिए प्रेरित किया, ताकि अन्य लोग सुशांत की तरह पीड़ित ना हों।'

मौत वाले दिन ही सारी नैतिकताएं ध्वस्त हो गई थीं

दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'नैतिकता के सारे कोड तो उसी दिन खिड़की से बाहर फेंक दिए गए थे, जब पहले ही मिनट उनके शव के फोटोज को प्रसारित किया गया था। अब हमें सामूहिक रूप से आचार संहिता के बारे में बात करना चाहिए- कि पहले दिन से लेकर अबतक उपलब्ध हर मंच पर हमने जो कुछ भी उपभोग किया है, उसमें वास्तव में आपराधिक मानहानि आखिर है क्या?'

##

ये केस एक अपवाद है

तीसरे ट्वीट के मुताबिक, 'तकनीकी रूप हो सकता है कि वो नैतिकता के कोड का उल्लंघन कर रही हो, लेकिन अपवाद ये है कि इस केस में वास्तव में असाधारण परिस्थिति थीं। मीडिया तो बिना किसी मुकदमे और बिना किसी निर्णायक सबूत के ही ये बता चुका है कि हत्यारा कौन है... यहां तो भीड़ के रूप में न्याय के लिए मीडिया ट्रायल चल रहा है।'

##

निजी और राजनीतिक हित साध रहे लोग

इस मुद्दे को लेकर किए चौथे और आखिरी ट्वीट में स्वरा ने लिखा, 'ये बिल्कुल स्पष्ट है कि उनकी (सुशांत) मौत का इस्तेमाल व्यक्तिगत बदला लेने और राजनीतिक लाभ के लिए किया जा रहा है। मैं ये भी समझ पा रही हूं कि उन्हें (थेरेपिस्ट) क्यों बोलना पड़ा। सारी बातचीत डिप्रेशन को बदनाम कर रही हैं और उसे बिल्कुल गलत तरीके से पेश कर रही हैं... मुझे लगता है कि हमें मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात करने की जरूरत है ना कि साजिश की कहानियों के बारे में'।

##

क्या कहा था सुसान वॉकर ने?

शनिवार को एक इंटरव्यू में सुशांत की थेरेपिस्ट सुसान वॉकर ने दावा किया कि सुशांत बाइपोलर डिसऑर्डर से जूझ रहे थे। उन्होंने कहा, 'सुशांत डिप्रेशन और हाइपोमेनिया के दौरों के कारण बहुत तकलीफ में थे। रिया उन्हें बहुत सपोर्ट कर रही थीं। पहली बार जब मैं उनसे बतौर कपल मिला तो सुशांत के प्रति रिया की चिंता, प्यार और सपोर्ट देखकर प्रभावित हुआ था। यह इस बात का सबूत था कि वे दोनों एक-दूसरे के कितने करीब थे। रिया अप्वाइंट लेती थी और उन्हें हिम्मत बंधाती थी। जब वे गंभीर रूप से बीमार पड़े तो रिया ने उनका ख्याल मां की तरह रखा।'

थेरेपिस्ट पर भड़के सुशांत के जीजा

इस खुलासे के बाद सुशांत के जीजा विशाल थेरेपिस्ट पर भड़क गए थे। उन्होंने अपने ब्लॉग में लिखा था कि 'मेंटल हेल्थ की जानकारी कानून के दायरे में आती है। किसी साइकैट्रिस्ट/ साइकोलॉजिस्ट द्वारा इसे उजागर करना न केवल अनैतिक है, बल्कि अवैध भी है। मैं यह अपने ससुर केके सिंह पर छोड़ता हूं कि वे इस मामले में थेरेपिस्ट पर चार्जेस लगाते हैं या नहीं?' विशाल सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति के पति हैं, जो कि अमेरिका में सेटल हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने सुशांत सिंह राजपूत को बाइपोलर डिसऑर्डर से पीड़ित बताने वाली उनकी थेरेपिस्ट का बचाव किया है।

😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments