Sushant case में बिहार के डीजीपी बोले- 50 करोड़ गायब होने की बात क्यों दबाना चाहती है मुंबई पुलिस? हम चुप नहीं बैठेंगे

Sushant case में बिहार के डीजीपी बोले- 50 करोड़ गायब होने की बात क्यों दबाना चाहती है मुंबई पुलिस? हम चुप नहीं बैठेंगे


नई दिल्ली | सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में दो राज्यों की पुलिस की छानबीन शुरू होने से ये मुंबई पुलिस और बिहार पुलिस के बीच जंग (Mumbai Police and Bihar Police words war) बन चुकी है। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे (Bihar DGP Gupteshwar Pandey) लगातार मुंबई पुलिस पर सवाल उठा रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि मुंबई पुलिस ने सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस में मनी ट्रॉयल की जांच (Gupteshwar Pandey questioned why Mumbai police ignore money trial matter) क्यों नहीं की? डीजीपी ने सुशांत के बैंक अकाउंट में जमा पैसों के गायब होने पर सवाल उठाया है। उनके मुताबिक, सुशांत के अकाउंट से बड़ी रकम के गायब होने के बावजूद इसपर जांच क्यों नहीं की गई।

गुप्तेश्वर पांडे ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पिछले चार सालों में 50 करोड़ के लगभग पैसे सुशांत सिंह राजपूत के अकाउंट में (50 crore credited in Sushant bank account in 4 years) जमा हुए थे लेकिन अचानक सारे निकाल लिए जाते (5 crore withdrawn from Sushant account) हैं। पिछले एक साल में उनके अकाउंट में 17 करोड़ रुपए जमा हुए थे जिसमें से 15 करोड़ रुपए निकाल लिए (15 crore withdrawn from Sushant account) जाते हैं। क्या ये जांच का जरूरी पहलू नहीं है? हम चुप नहीं बैठने (Bihar DGP says will not sit quietly) वाले हैं। हम मुंबई पुलिस से सवाल करते रहेंगे कि आखिर क्यों इन बातों को क्यों दबाया जा रहा है?

इससे पहले बिहार के डीजीपी ने विनय तिवारी को बीएमसी द्वारा क्वारेन्टीन किए जाने पर नाराजगी (Gupteshwar angry on quarantine to Vinay Tiwari) जताई थी। उन्होंने कहा था कि मुंबई पुलिस हमारा जांच में सहयोग नहीं कर रही है (Bihar DGP says Mumbai Police in not cooperating) बल्कि बिहार पुलिस को रोकने का प्रयास किया जा रहा है। सुशांत की पोस्टमार्टम और फॉरेन्सिक रिपोर्ट, जरूरी सबूत देने के बजाए मुंबई पुलिस ने हमारे एसपी को लगभग घर में बंद कर दिया है। मैंने किसी भी राज्य की पुलिस द्वारा इस तरह का असहयोग नहीं देखा है। अगर मुंबई पुलिस सही है तो उन्हें हमारे छानबीन को शेयर करना चाहिए।

वहीं बिहार पुलिस के लगातार सवाल उठाने के बाद मुंबई पुलिस कमिश्नर परम बीर सिंह ने मीडिया से बातचीत में इन सभी बातों से इंकार कर (Param Beer Singh refused all Bihar Police statements) दिया था। उन्होंने कहा कि 56 लोगों के स्टेटमेंट रिकॉर्ड किए जा चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने सुशांत के निधन से पहले उनके घर पर किसी भी तरह की पार्टी होने से भी इंकार किया था।



😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments