Sushant Singh Rajput Death Case: ड्राइव फिल्म को OTT पर रिलीज करने पर करण जौहर से नाराज थे सुशांत

Sushant Singh Rajput Death Case: ड्राइव फिल्म को OTT पर रिलीज करने पर करण जौहर से नाराज थे सुशांत


नई दिल्ली: एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया। सुशांत के निधन के गम से अभी तक उनके फैंस और करीबी निकल नहीं पाए हैं। आए दिन सोशल मीडिया (Social Media) पर उनके लिए इंसाफ की आवाज उठती है। हालांकि करीब डेढ़ महीने तक लोगों ने सोशल मीडिया पर सीबीआई जांच की मांग उठाई थी, जिसके बाद अब ये मामला सीबीआई के पास जा चुका है। लेकिन इस बीच सुशांत से जुड़े कई लोग अहम खुलासे कर रहे हैं। अब सुशांत के पूर्व सहायक अंकित आचार्य ने खुलासा किया है कि सुशांत 'ड्राइव' फिल्म (Drive Film) के ओटीटी पर रिलीज होने के कारण डायरेक्टर करण जौहर से नाराज थे।

करण जौहर (Karan Johar) ने 'ड्राइव' फिल्म को ओटीटी पर रिलीज किया था और यह फिल्म चल नहीं पाई। अंकित ने बताया कि फिल्म को ओटीटी पर रिलीज करने के कारण सुशांत करण जौहर से नाराज थे।

इसके अलावा अंकिता आचार्य ने अपने एक बयान से सभी को चौंका दिया। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत का मर्डर हुआ है। उनके पालतू डॉगी फज की बेल्ट से उनका गला घोंटा गया। अंकित आचार्य ने पिंकविला से बात करते हुए कहा, 'मैं सुशांत भइया को अच्छे से जानता हूं। मैं इस बात पर यकीन नहीं कर सकता कि उन्होंने सुसाइड किया है। उनका मर्डर (Sushant Singh Rajput Murder) हुआ है। क्योंकि जब कोई सुसाइड करता है तो उसके गले पर मार्क U शेप में आता है। लेकिन जब किसी का गला दबाया जाता है तब O मार्क का शेप आता है और सुशांत भइया के गले पर O शेप था। इसके साथ ही अंकित ने कहा कि जब कोई सुसाइड करता है तो जीभ और आंखें बाहर आ जाती हैं। लेकिन इस केस में ऐसा नहीं हुआ। यह एक मर्डर है।'

अंकित ने आगे कहा कि, 'मैं फोटो देखकर यह बता सकता हूं कि उनके गले पर किस चीज का निशान है। अंकित ने कहा कि वो निशान सुशांत भइया के पेट डॉग फज (Sushant's Dog Fudge) की बेल्ट का है। मेरे फोन में सुशांत भइया की बॉडी की तस्वीरें हैं। मुझे लगता है कि उनका गला फज की बेल्ट से ही घोंटा गया है। लेकिन मुझे खुशी है कि अब इस केस की जांच सीबीआई करेगी। मैं चाहता हूं कि सुशांत भइया को इंसाफ मिले और गुनहगारों को सजा।' इसके साथ ही अंकित ने कहा कि सुशांत भइया कभी भी सोते समय दरवाजा बंद नहीं किया करते थे। जब मैं उनके साथ काम करता था तो मैं उनके साथ उनके कमरे में ही सोता था क्योंकि मुझे उन्हें सुबह 4 बजे उठाना होता था।



😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments