Sushant Singh सुसाइड केस में मुंबई पुलिस के बयान से मचा बवाल, बिहार पुलिस को जांच ना करने की बात कही

Sushant Singh सुसाइड केस में मुंबई पुलिस के बयान से मचा बवाल, बिहार पुलिस को जांच ना करने की बात कही


नई दिल्ली। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस ( Sushant Singh Rajput Suicide Case ) में एक के बाद एक कई बड़े खुलासे होते जा रहे हैं। ऐसे में डेढ़ महीने बाद सुशांत के परिवार के खुलकर सामने आने के बाद से केस में और कई बड़े मोड़ आ गए हैं। सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ( Sushant Girlfriend Rhea Chakraborty ) के खिलाफ एफआईआर दर्ज ( FIR File against Rhea Chakraborty ) होने पर पटना पुलिस ( Patna Police ) भी एक्टिव हो गई और चार अधिकारी तुंरत मुंबई पहुंच गए। इस बीच बिहार के आईपीएस ऑफिसर विनय तिवारी ( Bihar IPS Officer Vinay Tiwari ) को मुंबई आते ही क्वांरटीन करने से सुशांत के परिवार और बॉलीवुड में नाराजगी है। इस बीच अब मुंबई कमिश्नर परमबीर सिंह ( Mumbai Police Commissioner parambir singh ) की ओर से एक और बड़ा बयान सामने आया है। जिसके बाद से हर तरफ हलचल मच चुकी है।

दरअसल, मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ( Mumbai police commissioner conference) ने कॉनफ्रेंस में कहा कि 'सुशांत सुसाइड केस में बिहार पुलिस ( Bihar police cannot investigate sushant suicide case ) को जांच करने का कोई अधिकार नहीं है। मुंबई पुलिस द्वारा चल रही जांच बिल्कुल पारदर्शी है और बिल्कुल ठीक दिशा में चल रही है। मुंबई पुलिस कमिश्नर के इस बयान से बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Bihar CM Nitish Kumar ) ने आपत्ती जताई है। वहीं इस पूरे मामले पर महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ( Maharashtra Home Minister Anil Deshmukh ) ने अपना बयान देते हुए कहा कि 'मुंबई पुलिस पेशेवर तरीक के जांच में जुटी हुई है। बिहरा में दर्ज हुई शिकायत मुंबई पुलिस को सौंप देनी चाहिए थी, क्योंकि जिसके अधिकार क्षेत्र में अपराध हुआ है। उसी जगह को जांच का अधिकार होता है। अनिल देशमुख ने यह भी बताया कि वह कानूनी विशेषज्ञ से भी इस मामले में राय ले रहे हैं।'

 

सुशांत केस में बिहार पुलिस को ( Bihar police investigate sushant case ) जांच करने का अधिकार है या नहीं और यदि बिहार पुलिस के पास यह अधिकार है तो उन्हें यह साबित करना होगा। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस ( 56 People statement in sushant singh rajput suicide case ) में अब तक 56 लोगों से बातचीत कर उनका बयान दर्जा किया जा चुका है। वहीं बीएमसी ने विनय तिवारी को क्वांरटीन ( IPS Vinay tiwari Qurantine ) करने के मामले में सफाई देते हुए कहा है कि वह कोरोनावायरस के नियमों ( Coronavirus regulations ) के तहत ही अधिकारी को क्वांरटीन किया गया है। इन सब बातों को देखते हुए और आईपीएस तिवारी संग हुए बर्ताव को देखते हुए बिहार मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने कहा कि बिहार के पुलिस महानिदेशक महाराष्ट्र के अधिकारियों से बात करेंगे। यह मुद्दा राजनीतिक नहीं है।

 

 



😍 यदि आप भी हैं खाने के शौक़ीन तो देखें ये वीडियो  👇👇





Post a Comment

0 Comments